Apple Company Co-Founder Steve Jobs success story in Hindi || Steve Jobs Biography in Hindi - Success Story In Hindi

April 02, 2018
घर से शुरू करके दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल कंपनी तक का सफर

Success Story in Hindi



Hye Dosto 😁 तो आज हम बात करने वाले दुनिया के सबसे सफल बिजनेसमैन में से एक Steve Jobs के बारे में जोकि Apple कंपनी Co-Founder भी है और आज के समय मे apple दुनिया की सबसे Best Mobile Manufacturer कंपनी है जोकि America की है और ये कंपनी आज के समय मे पूरी दुनिया मे अपनी जगह सबसे ऊपर बनाये हुए है  ये कंपनी शरू से ऐशी नही थी इसे भी एक छोटी सी जगह से शरू करके Steve Jobs कंपनी को वहाँ ले गये जिस कारण आज के समय मे apple दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल कंपनी है तो दोस्तो Steve Jobs की कहानी को शरू से जानते है।


Apple Company Co-Founder Steve Jobs success story in Hindi || Steve Jobs Biography in Hindi - Success Story In Hindi



तो दोस्तो कहानी की शुरुआत होती है 24 February,1955 को California America में हुआ था जब Steve का जन्म हुआ तो उनके माँ College में पढ़ाई करती थी पर जब तक उनकी माँ की शादी नही हुई थी तो उनकी माँ ने उनको किसी family को गोद देने का फसला किया उनको Paul Jobs ओर kalra Jobs ने गोद लिया वो बहुत ही गरीब family से थे तो उन्होंने steve की सारी जरूरते पूरी की।



Steve की शुरुआती पढ़ाई Monta Loma School से हुई और फिर आगे चल कर 1972 में उन्होंने Read College में Addmission लिया जोकि वहा की सबसे महंगी कॉलेज थी इसलिए उनके परिवार माता-पिता को Steve की फीस भरने में बहुत तकलीफ होती थी इसलिए Steve से देखा नही गया तो उन्होंने weekends में कोल्डड्रिंक्स बेचने का फसला किया ताकि थोड़ी हेल्प मिल जाय और पैसे की कमी के कारण वो मंदिर मे जाकर फ्री खाना खाते थे।



अपना किराया बचाने के लिए वो अपने दोस्तों के कमरे में ज़मीन पर सो जाया करते थे फिर भी फीस के पैसे नही जुटा पाते थे फिर स्टीव ने अपना college छोड़ने के फसला किया और फिर उन्होंने कॉलेज छोड़ दिया और फिर अपना ध्यान अपने unique Business Idea पर लगाने लगे।



Apple Company Co-Founder Steve Jobs success story in Hindi || Steve Jobs Biography in Hindi - Success Story In Hindi


















और फिर Steve ने अपने दोस्तों के साथ मिल कर अपने पिता की गैराज में मिल कर ऑपरेटिंग सिस्टम तैयार किया ओर फिर कड़ी मेहनत के बाद 1976 में Steve ओर उनके दो दोस्तों के साथ मिल कर शुरू किया औरफिर कुछ दिनों में apple कंपनी 2 अरब Dollar की ओर 4000 कर्मचारियों वाली कंपनी बन गयी और फिर आगे चल कर 1985 में Board of Directors की मीटिंग्स के बाद Steve को कंपनी से बाहर कर दिया गया।


ये उनके लिए बड़े दुख की बात थी कि जिस कंपनी को उन्होंने बनाया था इस मुकाम पर ले गए थे उसी कंपनी ने उनको कंपनी से ही बाहर निकल दिया था Steve के जाने के बाद कंपनी की हालत और ज्यादा खराब हो गयी और कंपनी Loss में जाने लगी और Apple छोड़ने के बाद उन्होंने Pixler नाम की कंपनी शुरू की जोकि काफी सफल हुई और फिर apple कंपनी की खराब हालत को देख कर Steve को कंपनी में वापस आने की request की और फिर 1996 में steve apple के CEO बन गयी और फिर Pixler को apple के साथ जोड़ दिया गया जब स्टीव एप्पल में वापस आए थे तब एप्पल में 250+ products थे स्टीव ने उनकी सख्या घटा कर 10 कर दिया और कहा अब इन पर ही अपना ध्यान किंद्रित करो Steve कहते थे।


की प्रोडक्ट की Quantity नही Quality पर ध्यान देना चाहिए ओर फिर उन्होंने 1998 में Mac लॉन्च किया जोकि काफी सफल हुआ और फिर iphone भी लॉन्च किए और फिर apple ने कभी भी पीछे मुड़ के नही देखा दोस्तो बता दु 2011 में steve जॉब्स का देहांत हो गया पर उन्होंने एप्पल कंपनी को ज़मीन से आसमान की उचाईयो पर पहुँचा दिया।



उम्मीद है आपको Steve jobs की Success स्टोरी अच्छी लगी होगी अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो please अपने दोस्तों के साथ ज़रूर share करे ताकि इस intresting स्टोरी को सभी जान सके और उनको भी इससे मोटिवेशन मिल सके।


www.successstoryhindi.com


(यह Article मेरी इंटरनेट की रिसर्च पर आधारित है, यह 100% ठीक हो उसकी मैं गारंटी नहीं ले सकता।)


अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आपका बहुत-बहुत


धन्यवाद

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »