Alibaba Group Co-Founder Jack Ma success story in Hindi || Jack Ma Biography in Hindi - Success Story In Hindi


Alibaba Group Co-Founder Jack Ma success story in Hindi || Jack Ma Biography in Hindi - Success Story In Hindi



30 बार जॉब से Reject होने और बना दी 10 लाख Cr की कंपनी




      Hye Dosto तो आज हम बात कर रहे China के सबसे अमीर आदमी और Alibaba Group के Co-Founder Jack Ma के बारे में जिनकी कुल सम्पत्ति 40+ Billion $ है और आपको यह जानकर हैरानी होगी कि 30 बार Job से निकले जाने के बाद आदमी हार मान लेता है पर Jack को हार मानना word पसंद नही था और jack का कहना है क्या पता वो आपकी last असफलता हो उसके बाद तुम्हारा time बदल जाएऔर यही बात Jack Maa ने सच साबित कर के दिखाई। तो दोस्तों Jack की इस Interesting और inspirational लाइफ स्टोरी को शुरू से जानते है।


Alibaba Group Co-Founder Jack Ma success story in hindi



तो दोस्तों कहानी की शुरुआत है 15 October,1964 को चीन के छोटे से गाँव मे हुआ था और उनका नाम Ma Yun था बचपन से ही उन्हें English काफी पसंद थी इसलिए Jack ने English सीखने का plan बनाया इसके लिए उन्होंने 9 साल तक tourist guide का काम किया जिससे कि वे फिर अच्छी English सिख गए थे। फिर एक दिन एक विदेशी को Guide करते वक़्त उससे Jack को दोस्ती हो गए उसी ने Jack Ma नाम दिया जोकि Ma Yun यानि Jack को काफी पसंद आया।



जैक पढ़ाई में अच्छे नही थी इसलिए वो 4th में 2 बार ओर 8th में 3 बार fail हुए जोकि उनके लिए काफी शर्म की बात थी और फिर आगे चल कर graduation की Entrance exam में बीबी 5 बार fail हुए। फिर jack ने एक normal से college से 1988 में English से Graduation की फिर उसके बाद jack ने जॉब की तालाश की उन्होंने 30 जगह से reject कर दिया गया Jack बताते है कि इसी बीच KFC china में आया था तो 24 लोग Interview देने गए थे जिसमें से 23 को Job मिल गयी सिर्फ वो अकेले ही Reject हुए थे पर फिर भी जैक ने हार नही मानी।



Alibaba Group Co-Founder Jack Ma success story in hindi





फिर jack को उनकी English अच्छी होने की वज़ह as a Translater Job मिल गयी कुछ दिनों तक उन्होंने वही पर काम किया और फिर Jack अपने दोस्त से मिलने America गए वाहा पर उन्होंने पहली बार इंटेरनेट देखा और फिर उन्होंने इंटरनेट चलाया और उन्होंने china के बारे में search किया तो उन्होंने देखा कि उस से Related कोई भी जानकारी इंटरनेट पर नही थी।


फिर Jack को लगा कि आगे का time इंटरनेट का है तो उस से ही जुड़ा कुछ काम शुरू करना चाहिए और फिर jack ने अपने दोस्तों के साथ मिल कर एक website शुरू की जिसका नाम China yellow pages रखा कुछ दिन तक चलने के बाद भी उन्हें कोई Funding या investment नही मिली जिस कारण website को बंद करना पड़ा फिर उनके दोस्तों ने सोचा कि अब कुछ नही हो सकता।





ओर फिर जैक ने अपने ग़लतियों को सुधारते हुए अपनी wife और 20 लोगो के साथ मिल कर एक नई website बनाई जिसका नाम Alibaba.com रखा ओर फिर कुछ time बाद इनको softbank से एक बड़ी Funding मिली और उसके बाद कुछ टाइम बाद Alibaba ने Ebay को china से भर का रास्ता दिखा दिया और उसके बाद जैक की company आज उस मुकाम पर है जहाँ जाने की हम कल्पना भी नही कर सकते।








Alibaba Group Co-Founder Jack Ma success story in Hindi || Jack Ma Biography in Hindi - Success Story In Hindi






Alibaba Group Co-Founder Jack Ma success story in Hindi || Jack Ma Biography in Hindi - Success Story In Hindi




उम्मीद है आपको Alibaba Group  के Co-Founder Jack Ma  की Success Story अच्छी लगी हो तो प्लीज अपने फ्रेंड्स के साथ शेयर ज़रूर करे ताकि सभी तक ये जानकरी पहुँच सकें।


(यह Article मेरी इंटरनेट की रिसर्च पर आधारित है, यह 100% ठीक हो उसकी मैं गारंटी नहीं ले सकता।)

अपना बहुमूल्य समय देन के लिए आपका बहुत-बहुत

धन्यवाद !


Share this

Related Posts

Previous
Next Post »